Food Travel Hatke Fashion Lifestyle Viral Health Entertainment Sports News Deals & Offers
Home ›› Literature ›› अगर जीना चाहते हैं, खुशहाल जीवन तो अपनाएं आचार्य चाणक्य का ये बात

अगर जीना चाहते हैं, खुशहाल जीवन तो अपनाएं आचार्य चाणक्य का ये बात

by Arti Jha | Posted: Jan 29, 2021 at 21:33 | Views: 273

अगर जीना चाहते हैं, खुशहाल जीवन तो अपनाएं आचार्य चाणक्य का ये बात
Source: zeenews

चाणक्य नीति के बारे में तो हम सब जानते हैं क्यों कोई आचार्य चाणक्य का जो भी विचार आता है वह समझने  लाइक होता है लेकिन लोग आजकल इन सभी बातों को समझना ही नहीं चाहते हैं।वो अपनी भागदौड़ भरी जिंदगी में इन सब चीजों को कोई मायने नहीं देते हैं। तो आज हम जानते हैं इस  लेख के द्वारा की  मनुष्य को  अहंकार ,क्रोध और लालच किस तरह बर्बाद कर देता है। 

लेकिन हम आपको बता दें कि काम क्रोध और लालच
 नजरअंदाज कर देते हैं आचार्य चाणक्य की नीतियां और विचार भले ही आपको थोड़े कठोर लगे लेकिन ये कठोरता ही जीवन की सच्चाई है। हम लोग भागदौड़ भरी जिंदगी में इन विचारों को भरे ही नजरअंदाज कर दें लेकिन ये वचन जीवन की हर कसौटी पर आपकी मदद करेंगे। आचार्य चाणक्य के इन्हीं विचारों में से आज हम एक और विचार का विश्लेषण करेंगे। आज का ये विचार अहंकार, क्रोध और लालच पर आधारित है। 

 क्रोध लालच और अहंकार खत्म कर देता है मनुष्य के अच्छाइयों को
हम लोग अक्सर देखते हैं अगर किसी मनुष्य को  ज्यादा धन हो जाता है तो उसमे अहंकार  और गरीबों पर क्रोध और लालच  ये तीनो उसमे   जरूर आ जाता है लेकिन  आचार्य चाणक्य कहते हैं कि ये तीन चीजें जिस किसी भी मनुष्य में आ जाता है  वो अपनी अच्छाई को धीरे-धीरे खत्म कर देता है । चाणक्य कहते हैं कि ये तीन चीज जिस मनुष्य के अंदर में बैठ जाता है उस मनुष्य की सोचने समझने और सहन करने की शक्ति खत्म हो जाती है।
 
मनुष्य को इस एक चीज की वापसी की किसी से भी नहीं करना चाहिए उम्मीद, हमेशा होंगे निराश
मनुष्य जो भी काम करता है उस पर उसे बहुत ज्यादा अहंकार हो जाता है ये अहंकार जब मनुष्य के अंदर आ जाती है तो  सबसे पहले उस मनुष्य की बुद्धि भ्रष्ट हो जाती है। अब हम बात करते हैं क्रोध। जिस मनुष्य के अंदर क्रोध आ जाता है तो वो क्या बोलता है उसे खुद नहीं पता नहीं होता है क्रोध में मनुष्य किसी को भी कुछ भी बोल देता है।

मनुष्य के अंदर नहीं आना चाहिए  क्रोध और अहंकार
यह तो हम सभी जानते हैं अगर ये तीनों चीज किसी मनुष्य के अंदर आ जाती है तो उसके अच्छाइयों को खत्म कर देता है। ऐसे मनुष्य किसी का भी प्रिया नहीं रहता बल्कि सभी उसके दुश्मन बन जाते हैं।ऐसे ही मनुष्य  को आपने हमेशा अकेला देखा होगा। इस कारण आचार्य चाणक्य कहते हैं। इन सभी चीजों को अपने आप से कोसो  दूर रखना चाहिए।

ALSO READ :

हमारे भारत देश में 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस क्यों मनाया जाता है,जानने के लीऐ पढे पूरी खबर

SSC के बारे में सही जानकारी प्राप्त करने के लीऐ, पढे ये पूरी खबर

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर हम जानते हैं उन से जुड़ी कुछ रोचक बातें

गुरु गोविंद सिंह के जयंती पर सिख समुदाय के लोग गुरुद्वारे में करते हैं,इन सभी चीजों का आयोजन

ऑनलाइन घर बैठे पैसे कमाने के आसान तरीके





Top Trends on NewsDailyo

» अगर बनाना है,अपने चेहरे को बेदाग और खूबसूरत तो पीने के पानी में जरूर मिलाएं, ये 4 चीजें» The 10 Misconceptions About Punjabis Broken » मोस्ट पॉपुलर रियलिटी शो बिग बॉस से जुड़े कुछ रोचक जानकारी» भाई दूज पर भाई को खिलाएं 'dark Chocolate' होंगे ये 7 फायदे» अगर बनाना है, घर परिवार को खुशहाल तो करें, ये उपाय» अंकिता लोखंडे के जीवन से जुड़ी कुछ रोचक तथ्य» 'to Begin With Feline In Space' Liable To Get A Commemoration Following 54 Years» जानते हैं विश्व के सबसे छोटे देश के बारे में» आसान तरीके से ठंड के मौसम बनाएं, मक्के की रोटी और सरसों का साग इस विधि के द्वारा» लिवर की समस्या हो तो इन 5 चीजों को डाइट में कर लें शामिल» Salman Gets Bail: Judge Comes To Court ... Sitting ... And Suddenly Speak - Bell Granted» नींबू पानी का सेवन करना, हमारे शरीर के लिए किस तरह हो सकता है, लाभदायक » लाजवाब सत्तू के लड्‍डू» यूं करें सर्दियों में होंठों की देखभाल» The Best 10 Artworks Around The Globe And The Mysterious Facts In Them Will Blow Your Mind